Uncategorized

मधुमक्खी के छत्ते से दूर होता है गंजापन, मधुमक्‍खी का छत्ता भी होता है गुणकारी, गंजापन भगाएं

madhumakhi chatte se ganjapan door kaise kare

मधुमक्खी का शहद खाने के फायदे आपने बहुत सुने होंगे मगर क्या आपको पता है मधुमक्खी के छत्ते खाने उसे लगाने के भी बहुत सारे फायदे होते हैं उन फायदों में से एक फायदा होता है गंजापन का दूर होना मधुमक्खी का छत्ता मोम से बना होता है जो मधुमक्खियों के पेट की ग्रंथि से निकलता है आपको शायद यह सुनकर बहुत आश्चर्य होगा लेकिन यह सही बात है मधुमक्खी शहद बनाने के लिए करीब 10 किलोमीटर दूर तक उड़ कर जाती है और शहद हटा करती है वह एक बार में ही 50 से 100 फूलों का रस अपने अंदर एकता कर लेती हैं फिर जाकर और शहद बनाते हैं जो मधुमक्खी के छत्ते में पाया जाता है

 

मधुमक्खियां 1 किलो शहद बनाने मैं 4000000 फूलों का रस हटा करती हैं तब जाकर शहद बनता है अब आप को पता चल गया होगा कि इतने सारे फूलों का रस से बना हुआ शहद आपके लिए कितना फायदेमंद है

शहद कहते हैं हजारों साल तक रखने पर भी खराब नहीं होता है

मधुमक्खी छत्ता नारियल के तेल में मिलाकर बालों में लगाने से आपके झड़ते हुए बाल रुक जाते हैं अगर बाल झड़ रहे हो तो आप मधुमक्खी के छत्ते को नारियल के तेल में मिलाकर सिर में लगाएं जिससे आपके झड़ते हुए बालों के रुकने की संभावना बहुत बढ़ जाएगी

मधुमक्खी के छत्ते से निकलने वाला मोदी काम का होता है आपको पता नहीं है इसका उपयोग मल हम बाम कॉलेज मोमबत्ती और सौंदर्य प्रसाधन बनाने में जैसे लोशन क्रीम लिपस्टिक में भी काम में लिया जाता है अगर हम गांव में सत्य को तोड़कर शहद तो निकाल लेते हैं और उस उपयोगी सत्य को फेंक देते हैं मगर अब मत भेजना किसी गंजे के सिर में बाल उगाने के लिए काम आ सकता है

आपके घर में मधुमक्खी के छत्ते से लिप बाम बना सकते हैं इसके लिए आपको मधुमक्खी से निकलने वाले व्यक्ति को नारियल तेल कोको बटर या पिपरमेंट के तेल में मिलाकर लिप बाम बना सकते हैं जिससे सर्दियों में फटे होंठों से छुटकारा मिल सकता है

गठिया रोग बुढ़ापे में बहुत से ज्यादा देखने को मिलता है जिसमें जोड़ों में दर्द होता है तो उनको भी मधुमक्खी के छत्ते से निकलने वाले मॉम से जोड़ों के मालिश करें तो गठिया रोग से निजात मिल सकती हैं

आदमी की छुट्टी में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जिसे खाने से आपके शरीर के इम्यून शक्ति बढ़ती है जिससे आप शरीर आम दिनों में होने वाली बीमारी से लड़ने में सक्षम हो सकता है

जाने मधुमक्खी के छत्ते से गंजापन दूर कैसे होता है

मधुमक्खी के छत्ते से आप आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे से गंजापन दूर करने की दवाई बना सकते हैं जो बहुत फायदेमंद होती हैं यह देसी नुकसा है मधुमक्खी का छत्ता जो आपको कहीं आस-पास मिल जाता है इस क्षेत्र में गुड़हल के पत्ते मिलाकर इसे नारियल के तेल में अगर उबालें जब छत्ता काला पड़ जाए तो उबालना बंद कर दें और उसके बाद ठंडा होने के लिए छोड़ दें फिर इसे छानकर बोतल या पत्र में भर ले इससे सिर में रोज मालिश करें इस दिल से रोज मालिश करने से बालों को फिर उठने में मदद मिलेगी जिससे आपका गंजापन होने की समस्या से निजात मिल जाएगा

मधुमक्खी के छत्ते गंजापन दूर करने की दवाई आप घर पर बैठे बना सकते हैं और इससे आपको पैसे भी खर्च करने की जरूरत नहीं होती इसलिए यह एक कारगर बिना खर्च किए ही दवाई बनाई जा सकती हैं

मधुमक्खी के छत्ते से गंजापन दूर करने की दवाई बनाएं और उसका प्रयोग करें और इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगों में शेयर करें ताकि गंजेपन या बाल झड़ने की समस्या वाले लोगों की समस्या का समाधान आपके शेयर करने से हो जाए

आपका कोई सुझाव हो तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं

इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *