Health

Thakan Dur Karne Ke Liye Pristhasana Yoga | थकान दूर करने के लिए पृष्ठासन

तिर्यक कटिचक्रासन और पृष्ठासन ऐसे ही आसन है जिस जिन्हें साथ साथ किया जा सकता है| इनसे संतुलन भी बना रहता है और शरीर के हर अंग का व्यायाम भी हो जाता है|

पृष्ठासन करने के लिए आप सबसे पहले सीधे खड़े हो जाएं, और दोनों पैरों के बीच डेढ़ फुट का अंतरिक हैं, और दोनों हाथों की उंगलियों को आपस में गूंथ लें| अब धीरे-धीरे सांस भरें और दोनों बाजुओं को सिर के ऊपर लाइन तथा बाजू सीधा रखें| palm को पलट दें ताकि यहां थैली का रुख आकाश की ओर रहे| अब धीरे-धीरे सांस सांस छोड़ते हुए कमर को आगे 90 डिग्री कोण पर जो काले सामने आते लिखी और देखें और सांस बाहर रोक कर रखें इस पर अपने शरीर और बालों को ज्यादा से ज्यादा दाई और इसी तरह दूसरी तरफ बाय-बाय सांस भरें और सीधे खड़े हो जाएं अब सांस निकालते हुए हाथों को नीचे कर ले और आराम की मुद्रा में आ जाएं यह एक पूरा चरण है | इस चरण को आप 5 बार अभ्यास करें अगर आपको साठी काय स्लिप डिस्क की समस्या हो तो आगे की और झुकने वाले आसन नहीं करें कटिचक्रासन पीठ और कमर की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है| उनका नाम है और शक्ति बढ़ाता है| आसन के नियमित अभ्यास है| कमर की जकड़न भी दूर होती है और शारीरिक मानसिक तनाव कम करने में सहायक है|

Thakan Dur Karne Ke Liye Pristhasana Yoga

शिवम को आप दोनों हाथों को निधन के नीचे यानी जानू के पीछे भाग में सट्टा करके सांस पड़ेगा साथ छोड़े घुटनों को तोड़ा मरोड़ा और कमर के पीछे झुकते जाएं और हाथों को नीचे सरका जाए पीछे झुकते हुए अगर आप हाथों को घुटने के पिछले भाग तक पहुंचा सकते हैं तो ठीक है| नहीं पहुंचे तो ज्यादा जोर नहीं डालें यह धीरे-धीरे अभ्यास करने पर ही टेक में तक पहुंच सकते हैं वरना आपको दर्द हो सकता है इसलिए ज्यादा जोर दे|

पृष्ठासन करने वालों के पेट में अल्सर, उच्च रक्तचाप, श्याटिका या स्लिप डिस्क समस्या होने पर पृष्ठासन का अभ्यास नहीं करना चाहिए|

पृष्ठासन करने से पेट की मांसपेशियों में कैसा होता है और उसके अंगों के कार्य क्षमता भी बढ़ती है| पृष्ठासन के नियमित अभ्यास से पीठ और कमर के हिस्से में रक्त का संचार बढ़ जाता है| इससे आपके पेट पेट और कमर की जकड़न दूर होती है| तंत्रिका व ताकत मिलती है| इससे ताजगी महसूस होती है और थकान दूर होने में बहुत सहायता मिलती है, साथ ही मानसिक संतुलन बना रहता है|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *